GST क्या है? GST किन लोगों के लिये जरूरी है?

By | August 1, 2021

GST क्या है? GST किन लोगों के लिये जरूरी है? – दोस्तों आज मैं, आपको बताऊंगा कि आप GST Registration कैसे कर सकते हैं। आज के टाइम हर बिजनेसमैन को GST Register करवाना बहुत आवश्यक है। अगर आप बिना GST Registration करवाएं। आप अपना व्यापार करते हैं। तो वह गैरकानूनी माना जाता है। GST की आवश्यकता छोटे बिजनेसमैन से लेकर बड़े से बड़े बिजनेसमैन तक को पड़ती है।
आज हम आपको GST Registration की पूरी जानकारी देंगे।

GST क्या है?

पहले व्यापारी अलग-अलग प्रकार के टैक्स पे करते थे। जिसकी वजह से उन्हें काफी परेशानियों का सामना करना पड़ता था। लेकिन जीएसटी के कारण। आप अपने भिन्न प्रकार के टैक्स ओं को ना भरकर। आपको खाली जीएसटी भरना होगा जीएसटी के अंदर आपके सारे बिल होते हैं। इससे व्यापारियों को बहुत ज्यादा समय बचता है। केंद्र सरकार ने 1 जुलाई 2017 को सम्पूर्ण भारत में इसे एक साथ लागू किया।

GST किन लोगों के लिये जरूरी है?

मैं आपको बता दूं जब कोई भी व्यक्ति या कोई भी कंपनी कारोबार करती है। या वह अपनी सेवाएं या वस्तुएं आप तक पहुंचाती है। तो जब उसकी वार्षिक बिक्री की सीमा 40 लाख से ज्यादा हो जाती है। तब उसे GST Registration करना अति आवश्यक होता है। लेकिन कुछ राज्यों में यह छोटे व्यापारियों पर सीमा 20 लाख रुपए सीमा रखी है। GST Registration के बाद आपको अपने GST बिल के नियमों के अनुसार ही आपको पे करने होते हैं।

Read More – क्यू. आर. कोड क्या हैं ? जानें सारी जानकारी हिन्दी में

GST का Registration कब कराना चाहिए?

जब भी आप अपना कोई नया व्यापार शुरू करते हैं। तो आपका यदि शुरुआत के दिनों में आपका व्यापार 20 लाख रुपए सालाना का टर्नओवर क्रॉस करता है। तो इस स्थिति में आपको 30 दिनों के अंदर ही अपना GST Registration करवाना होगा नहीं तो सरकार आपके खिलाफ कोई एक्शन भी ले सकती है।

GST Registration नहीं करवाने पर कितनी Penalty लगती है?

यदि कोई व्यक्ति GST के दायरे में आता है, और उसका Registration नहीं करवाता है। या GST बिल कम भरता है। या बिल्कुल भी नहीं भरता है। तो ऐसी स्थिति में सरकार उसके खिलाफ सख्त कदम उठाती हैं, और उनके ऊपर पेनल्टी भी लगाती है। ऐसी स्थिति में GST नियम के अनुसार दोषी पाए जाने पर आपको ₹10000 रुपए या पूरे GST टैक्स का 10% तक जुर्माना भरना पड़ सकता है। यह जुर्माना GST विधेयक के अनुसार लिया जाता है।

GST Registration के लिए आप को किन-किन डाक्यूमेंट्स की जरुरत होती है?

• पैन कार्ड
• आधार कार्ड
• बैंक एकाउंट स्टेटमेंट
• फोटो
• बिजनेस रजिस्ट्रेशन का प्रूफ या इनकारपोरेशन सर्टीफिकेट
• प्रमोटर्स या डायरेक्टर की फोटो सहित सहित पहचान और एड्रेस प्रूफ
• कार्यस्थल के पते का सबूत
• डिजिटल हस्ताक्षर
• लेटर ऑफ ऑथराइजेशन/बोर्ड रेजोल्यूशन फॉर ऑथोराइज्ड सिग्नेटरी
• रजिस्ट्रेशन फीस

GST Registration Online कैसे करे पूरी जानकारी?

• इसका रजिस्ट्रेशन करने के लिए आपको सबसे पहले इसकी वेबसाइट gst.gov.in पर जाना होगा। वहां जाकर आपको रजिस्ट्रेशन के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।

• यहां पर आपको form 1 दिखाई देगा यहां पर आपको अपना पैन कार्ड नंबर, ईमेल एड्रेस और मोबाइल नंबर भरना होगा। इतना करने के बाद आपको प्रोसीड पर क्लिक करना होगा।

• इसके बाद आपके नंबर पर एक ओटीपी वेरिफिकेशन के लिए आएगा।

• इतना करने के बाद अब आपके सामने form 2 ओपन होगा। आपको form 2 फिल करना है, यहां पर आपसे बिजनेस के बारे में डाक्यूमेंट्स मांगे जाएंगे। तो आपको यहां पर उनको क्रमानुसार अपलोड करके प्रोसेट पर क्लिक करना है।

• यह सब करने के बाद आपको 3 दिनों का इंतजार करना होगा। इन 3 दिनों में जीएसटी अधिकारी आपसे form 3 में कुछ और भी डाक्यूमेंट्स मांग सकता है। जिसकी जानकारी आपको form 4 में भरकर सेव एंड कंटिन्यू पर क्लिक कर कर देनी होती है।

• जब आप GST Registration करते हैं। तो आपको form को पूरे ध्यान से भरना है, अगर आपके GST Registration form में कुछ भी चीज सही ना पाए जाने पर आपका GST Registration कैंसिल भी हो सकता है। जिसकी जानकारी आपको form 5 में दी जाएगी।

• यदि आपका सब कुछ सही तरीके से रहता है। तो आपका GST Registration आपका एक्सेप्ट कर लिया जाता है, और इसकी जानकारी आपको एक मैसेज के द्वारा। आपको भेज दी जाती है। यह पूरा प्रोसेस होने में आपको 7 से 15 दिन का समय लग सकता है।

निष्कर्ष

हम उम्मीद करते है हमारी जानकारी आपको अच्छी लगी होगी। अगर इस आर्टिकल से आपकी मदद हुई हों तो इसे अपने दोस्तो के साथ जरूर शेयर करे। (धन्यवाद)

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *